हमारे सम्मान्य समर्थक... हम जिनके आभारी हैं .

गुरुवार, 25 नवंबर 2010

चुनाव

बालगीत : डा. नागेश पांडेय 'संजय' 

                                           मम्मी , हुआ चुनाव हमारे विद्यालय में .

                                                       ढेरों बच्चे थे प्रत्याशी 
                                                   सभी जीत के थे अभिलाषी  . 
                                               बढे हुए थे भाव हमारे विद्यालय में ,

                                                   कुछ जीते हैं कुछ हारें हैं .
                                                लेकिन फिर भी खुश सारे हैं . 
                                             है कितना सद्भाव हमारे विद्यालय में ,

                                        अब सब मिलकर काम करेंगे , 
                                                 विद्यालय का नाम करेंगे . 
                                            कितना सुन्दर चाव हमारे विद्यालय में ,

                                          यहाँ सभी को हैं सब प्यारे , 
                                                यहाँ  नहीं गिरतीं सरकारें. 
                                              नहीं पेंच या दांव  हमारे विद्यालय में 

कोई टिप्पणी नहीं: