हमारे सम्मान्य समर्थक... हम जिनके आभारी हैं .

शुक्रवार, 19 नवंबर 2010

पुस्तक :यस सर नो सर [ किशोर - कहानी संग्रह]

पुस्तक :यस सर नो सर   [ किशोर - कहानी संग्रह]

प्रकाशक : लहर प्रकाशन , ७७८ , मुट्ठीगंज , इलाहाबाद . 
मूल्य : १००  रुपया , संस्करण : २०१०, प्रथम . 

इस पुस्तक में किशोरों  के लिए १४ कहानियां है  - 
मन का डर , क्या मेरे पापा भी ? , नेहा की दीदी ,
 सुबह के भूले , शरारत ,निरंजन , नक़ल, 
आजादी का सुख , मेहनत सफल हुई , 
चूरे वाला , प्रयास , नया टेलीफोन ,
 यस सर नो सर , सबसे गंदे डाक्टर अंकल 

कहानियों  को किशोरों के जीवन के 
अन्तरंग क्षणों से निकाला गया है .
 भूमिका में एक नई बात है . 
लोग प्राय: दो शब्द   के नाम पर कितना लिख देते है . 
इसमें भूमिका का शीर्षक है -सौ शब्द  . ..
. और यहाँ लिखे भी सौ  शब्द ह़ी गए हैं.  

1 टिप्पणी:

sameer ने कहा…

sir apki kabita pasand aai . or apni sister ki yade bhi taja ho gai . Sheelu Sharma Bareilly